अजय पॉकेट बुक्स की नवीन पुस्तकें प्रीऑर्डर के लिए हैं तैयार

Jay 


अजय पॉकेट बुक्स (Ajay Pocket Books) द्वारा नवीन पुस्तकों की घोषणा कर दी गई है। प्रकाशक इस बार पाठकों एक समक्ष दो पुस्तकें लेकर प्रस्तुत हो रहे हैं। यह दोनों ही पुस्तकें उपन्यास हैं और अपराध साहित्य (Crime Fiction) की श्रेणी में आती हैं। 

अजय पॉकेट बुक्स (Ajay Pocket Books) द्वारा प्रकाशित की यह पुस्तकें निम्न हैं


तीसरी आँख

तीसरी आँख | Teesri Aankh




तीसरी आँख लेखक वरिष्ठ लेखक कमलदीप (Kamaldeep) द्वारा लिखा गया नवीनतम उपन्यास है। कमलदीप (Kamaldeep) इससे पहले कई ट्रेड नामों से लेखन कर चुके हैं। वहीं दूसरी ओर वह कई पत्रिकाओं का सम्पादन भी कर चुके हैं। यह पहली बार है कि उनके नाम से कोई उपन्यास प्रकाशित किया जा रहा है। 


किताब परिचय

पत्थर की जुबान रखने वाले शातिर अपराधी भी अमन के आगे तोते की तरह बोलने लगता था। मुर्दे के हलक में हाथ डालकर सच्चाई उगलवाने की काबिलियत थी उसमें, वहीं अमन वर्मा रामा पैलेस में एक-के-बाद एक हो रहे कत्ल के चक्रव्यूह में उलझ कर रह गया था। तीन-तीन कत्ल की वारदातों ने उस तेजतर्रार जासूस की खोपड़ी घुमा कर रख दी थी, उसकी तीसरी आँख क्या इन कत्ल का राज उजागर कर सकी...?


पुस्तक विवरण

लेखक: कमलदीप | मूल्य: 250 रुपये | डिस्काउंट: 10 प्रतिशत


यह भी पढ़ें: वरिष्ठ लेखक-संपादक कमलदीप (Kamaldeep) का उपन्यास जल्द होगा रिलीज


मुर्दे की जान खतरे में

Murde Ki Jaan Khatare Mein | मुर्दे की जान खतरे में


'मुर्दे की जान खतरे में' लेखक अनिल गर्ग (Anil Garg) का लिखा हुआ उपन्यास है। यह उपन्यास अनिल गर्ग के मकबूल किरदार जासूस अनुज (Jasoos Anuj) का एक रोमांचक कारनामा है। इससे लेखक द्वारा यह उपन्यास किंडल पर प्रकाशित किया गया था पर अब यह उपन्यास पेपरबैक में अजय पॉकेट बुक्स (Ajay Pocket Books) द्वारा प्रकाशित किया जा रहा है। 

किताब परिचय

दिल्ली के पॉश इलाके में एक अरबपति अपने ही घर में बेरहमी से मार डाला गया था। जिसके क़त्ल की गुत्थी सुलझाने के लिए आपका हरदिल अजीज जासूस अनुज एक ऐसे जाल में उलझ गया था, जहाँ हर मोड़ पर नए चेहरे कातिल के रूप में मिल रहे थे। क्या जासूस अनुज कत्ल की इस रहस्यमयी गुत्थी को सुलझा पायेगा ?

पुस्तक विवरण

लेखक: अनिल गर्ग  | शृंखला: 299 | मूल्य: 299  रुपये | डिस्काउंट: 10 प्रतिशत


यह भी पढ़ें: लेखक अनिल गर्ग (Anil Garg) से एक बुक जर्नल (Ek Book Journal) की एक छोटी सी बातचीत


अगर आप इन पुस्तकों को एक एक करके मँगवाते हैं तो आपको प्रकाशक अजय पॉकेट बुक्स (Ajay Pocket Books) द्वारा इन पुस्तकों पर 10 प्रतिशत का डिस्काउंट दिया जाएगा पर दोनों पुस्तकें एक साथ मँगवाने पर आपको  बीस प्रतिशत का डिस्काउंट प्रकाशक द्वारा दिया जाएगा। 

पुस्तकों की पेमेंट आप Ajaypocketbooks@icici पर यूपीआई के माध्यम से कर सकते हैं। पुस्तक के लिये  सहयोग राशि देने के पश्चात आप नंबर पर अपना पता भेज इन पुस्तकों को बिना किसी डिलीवरी चार्ज के मँगवा सकते हैं। 

किताब के विषय में अपने प्रश्न और अपने ऑर्डर पाठक निम्न नंबर पर प्रेषित कर सकते हैं:

92108 92940 

अजय पॉकेट बुक्स (Ajay Pocket Books) पुस्तकें पाठक के पास 20 अप्रैल 2022 से प्रेषित करनी शुरू हो जाएँगी। 


यह भी पढ़ें


FTC Disclosure: इस पोस्ट में एफिलिएट लिंक्स मौजूद हैं। अगर आप इन लिंक्स के माध्यम से खरीददारी करते हैं तो एक बुक जर्नल को उसके एवज में छोटा सा कमीशन मिलता है। आपको इसके लिए कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं देना पड़ेगा। ये पैसा साइट के रखरखाव में काम आता है। This post may contain affiliate links. If you buy from these links Ek Book Journal receives a small percentage of your purchase as a commission. You are not charged extra for your purchase. This money is used in maintainence of the website.

Post a Comment

2 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
  1. मुर्दे की जान खतरे मे यह उपन्यास मैने प्रतिलिपि पे पढ़ रखा है। इस शीर्षक का कथानक से कोई वास्ता नही है। औसत उपन्यास कहूँगा।
    यही सलाह दूँगा कि लेखक की अन्य कहानियाँ पढ़ने के उपरांत ही पैसे डाले इस उपन्यास पर।

    ReplyDelete
    Replies
    1. जी हो सकता है प्रिन्ट करने से पूर्व संशोधित कर लिया गया हो...

      Delete

Top Post Ad

Below Post Ad