सेवाएँ

स्रोत: पिक्साबे



क बुक जर्नल पर मैं लगातार 2013-14 से लिखता चला जा रहा हूँ।  इन वर्षों में मैंने इस साईट पर अपनी ही पसंद की चीजों के विषय में पढ़कर डाली हैं। हाँ, बीच बीच में अगर प्रकाशन मुझे रिव्यु कॉपीज भेजने के इच्छुक होते थे और मुझे किताब का विषय पसंद आता था तो मैं उन किताबों को लेकर उन्हें पढ़ता था और उनके विषय में लिख देता था। इस छोटी सी सेवा के अलावा मैंने कभी किसी को कुछ भी सेवा मुहैया नहीं करवाई है। 

पर अब इतने वर्षों तक लगातार साईट पर लेखन करने के चलते और कुछ अनुभव प्राप्त करने के चलते मैं खुद को इतना लायक मनाता हूँ कि कुछ सेवायें इस छोटी सी साईट के माध्यम से लेखकों और प्रकाशकों को दे सकता हूँ। जो भी सेवा मैं इस साईट के माध्यम से दूँगा उनमें से कुछ तो निशुल्क होंगी और कुछ के लिये आप मेरी मदद चाहते हैं तो आपको एक शुल्क देना होगा। यह पृष्ठ मैंने इन्हीं सेवाओं से आपका परिचय करवाने के लिए बनाया है। 

तो आइये सबसे पहले निशुल्क सेवाओं की बात कर लेते हैं:

 प्रमोशनस:

एक बुक जर्नल की शुरुआत जब हुई थी तो इसके पीछे पाठकों को हिन्दी की रचनाओं से परिचित करवाना था। अभी तक इस वेबसाइट पर मैं अपने द्वारा पढ़े गये उपन्यासों के प्रति अपने विचार ही लिखता था। लेकिन फिर हिन्दी साहित्य में निरंतर कुछ न कुछ लिखा जा रहा है।  ऐसे में कई कृतियाँ ऐसी हैं जिनसे मैं वाकिफ नहीं होता हूँ।  कई बार उन्हें पढ़ने का मुझे मौक़ा भी नहीं मिल पाता है क्योंकि मैं अपने दूसरे कार्यों में व्यस्त होता हूँ या अभी मेरे पास पहले की ही इतनी किताबें हो गयी होती हैं कि उन्हें पढ़ना थोड़ा मुश्किल होता है। लेकिन क्योंकि मेरे पास वक्त नहीं है इसका मतलब ये नहीं होता है कि ब्लॉग के अन्य पाठकों के पास वक्त नहीं है। चूँकि मेरे पास एक माध्यम मौजूद है तो तो मैंने सोचा क्यों न इसका प्रयोग लेखकों की कृतियों को अपने कम ही सही लेकिन कुछ पाठकों तक पहुँचाने का प्रयास करूँ। 

इसी सोच के तहत मैंने इस वेबसाइट में पुस्तकों के प्रमोशन की सेवा देने का मन बनाया है। इस सेवा के तहत मैं कुछ विशेष पोस्ट्स को अपनी साईट पर स्थान दूँगा। अगर लेखक/प्रकाशक चाहें तो वह इनमें से किसी भी तरह की पोस्ट्स के लिए मुझसे सम्पर्क स्थापित कर सकते हैं। 

मैं इन पोस्ट्स की जानकारी एक बुक जर्नल के अलावा एक बुक जर्नल के दूसरे सोशल मीडिया हैंडल्स पर भी साझा किया करूँगा। मेरा प्रयास रहेगा कि अपने सामर्थ्यानुसार ज्यादा से ज्यादा लोगों तक इन पोस्टस को पहुँचा पाऊँ।

यह पोस्ट्स निम्न प्रकार की होंगी:

1) किताब परिचय

जैसे कि नाम से ही जाहिर है यह पोस्ट किताब का परिचय पाठकों से करवाती है। 'किताब परिचय' एक बुक जर्नल की एक पहल है जिसके अंतर्गत हम नव प्रकाशित रोचक पुस्तकों से आपका परिचय करवाने का प्रयास करते हैं। 
लेखक मुझे निम्न चीजें contactekbookjournal@gmail.com पर मेल कर सकते हैं।  

किताब का सिनॉप्सिस
किताब के चुनिन्दा अंश 
अपनी किताब का अमेज़न लिंक 
अपना संक्षिप्त परिचय  

यह पोस्ट मैं महीने में चार से छः तक ही सीमित रखता हूँ। अगर एक बार में चार से ज्यादा मेल मुझे आते हैं तो वरीयता उन्हें दी जाएगी जिनका मेल पहले आया। दूसरी पोस्ट दूसरे माह में प्रकाशित होंगी। 
इस पोस्ट का फॉर्मेट कुछ निम्न तरह का होता है:


शुल्क: कोई शुल्क नहीं 


2) नव प्रकाशित किताब के ऊपर बातचीत


इस सेवा के तहत मैं लेखकों से उनकी नई प्रकाशित किताब के  विषय में बातचीत करता हूँ। यह एक संक्षिप्त साक्षात्कार होता है जिसमें पाँच से छः प्रश्न लेखक को उनकी ईमेल आई डी पर प्रेषित कर दिए जाते हैं। लेखक अपने समयानुसार उनके उत्तर दे सकता है।

यह पोस्ट निम्न तरीके से प्रकाशित होती है:
साक्षात्कार

इसके लिए लेखक अपना संक्षित परिचय, अपनी तस्वीर और अपनी किताब की तस्वीर को प्रश्नों के उत्तरों के साथ प्रेषित करना होता है। ऐसी पोस्ट भी महीने  में चार से छः ही प्रकाशित होती है। इस पोस्ट के लिए वरीयता मेल और उत्तर प्राप्त करने के वक्त के हिसाब से निर्धारित होगी। अगर किसी माह चार से ज्यादा ऐसे साक्षात्कार होते हैं तो उन्हें आने वाले महीने में प्रकाशित किया जायेगा।

शुल्क: कोई शुल्क नहीं


3) पुस्तक अंश:

कई बार अपरिचित लेखक की किताब पाठक आसानी से नहीं लेते हैं। उन्हें पता नहीं होता कि लेखक कैसे लिखता है। ऐसे में लेखक की किताब का रोचक अंश पढने को उसे मिले तो यह किताब के प्रति उत्सुकता जगाता है। इसी विचार के तहत मैंने इस तरह की पोस्ट्स को वेबसाइट पर स्थान देने का फैसला किया है।

इस पोस्ट में किताब का 300-400 शब्दों का अंश, पुस्तक के सिंपोसिस, पुस्तक के लिंक्स और लेखक का संक्षिप्त परिचिय मैं अपनी साईट पर प्रकाशित करूँगा। 

इस तरह की पोस्ट्स भी महीने की चार से छः के बीच में ही प्रकाशित की जाएँगी। यह पोस्ट कुछ निम्न तरह से प्रकाशित की  जाएगी:

पुस्तक अंश


शुल्क: कोई शुल्क नहीं

तो यह थी वह निशुल्क सेवाएं जो कि मैं अपने ब्लॉग पर आपको दे सकूँगा। अब बात करते हैं उन सेवाओं की जिनकी जरूरत अगर आपको मुझसे हो तो मैं वह करने के लिए आपसे कुछ शुल्क लिया करूँगा:

1) सम्पादन और प्रूफ रीडिंग

मैं अपनी साईट पर जब भी उपन्यासों के ऊपर लेख प्रकाशित करता हूँ तो कई बार ऐसी गलतियों के विषय में उनमे जिक्र करता हूँ जो कि अच्छे सम्पादन के चलते दूर की जा सकती थी। यह गलती प्रूफ की हो सकती है और कहानी में मौजूद प्लाट होल्स की भी हो सकती है। वहीं हॉरर और अपराध सहित्य के मामले में कई बार ऐसे कई बिंदु भी मैं उठाता रहा हूँ जिससे उपन्यास और बेहतर हो सकता था। उस वक्त मुझे लगता था कि मैं यह लेख में लिख तो रहा हूँ लेकिन अब इसका फायदा क्या है? यह तो सांप के निकल जाने के बाद लाठी पीटने सरीखा है। इसीलिए मैंने सोचा कि अगर कोई चाहता है कि मैं उनकी रचना को पढूँ और उस पर उनसे विचार विमर्श करूँ तो कुछ मानेदय लेकर मैं यह कार्य कर सकता हूँ। 

हाँ, अगर मेरे पास इस तरह की कोई रचना आती है तो मैं तब तक दूसरी रचना नहीं लूँगा जब तक पहली वाली के साथ कार्य पूरा न हो जाये। इस कार्य के लिए मैंने निम्न शुल्क निर्धारित किया है:

शुल्क:
10000 शब्दों तक की रचना का सम्पादन व प्रूफरीडिंग              - 750 Rs 
10000 - 19999 शब्दों तक की रचना का सम्पादन व प्रूफरीडिंग - 1500 Rs 
20000 - 39999 शब्दों तक की रचना का सम्पादन व प्रूफरीडिंग - 4000 Rs
40000 - 59999 शब्दों तक की रचना का सम्पादन व प्रूफरीडिंग - 5000 Rs
60000  से ऊपर  शब्दों तक की रचना का सम्पादन व प्रूफरीडिंग - 6000 Rs

2) वेबसाइट बनाना और उसका संचालन करना 

मैं पेशे से सॉफ्टवेयर इंजिनियर हूँ और पिछले आठ सालों से इस पेशे में कार्यरत हूँ। मैं वेबसाइट डेवलपमेंट करता हूँ । अगर आप लेखक हैं तो मैं आपके लिए न केवल वेबसाइट बना सकता हूँ बल्कि उस वेबसाइट का संचालन भी कर सकता हूँ। जब मैं आपकी साईट का संचालन करूँगा वेबसाइट पर सामग्री आपको केवल मुझे मेल करनी होगी और मैं आपकी तरफ से उसे प्रकाशित कर दूँगा।

मेरे द्वारा बनाई गयी और संचालित कुछ वेबसाइटस:

शुल्क:
सिंगल पेज वेबसाइट (होस्टिंग + मेंटेनेंस + मैनेजमेंट) - 6000 (साल भर का)
मल्टीप्ल पेज सिंपल वेबसाइट (होस्टिंग + मेंटेनेंस + मैनेजमेंट) - 12000  साल भर का


अगर आप मेरी कोई भी सेवा लेना चाहते हैं तो मुझे निम्न ईमेल पर मेल कर सकते हैं:



विकास नैनवाल 'अंजान'

No comments:

Post a Comment

Disclaimer:

Ek Book Journal is a participant in the Amazon Services LLC Associates Program, an affiliate advertising program designed to provide a means for sites to earn advertising fees by advertising and linking to Amazon.com or amazon.in.

लोकप्रिय पोस्ट्स