फ्लाईड्रीम्स प्रकाशन के इम्प्रिन्ट फ्लायविंग्स का नया सेट जल्द होगा प्री ऑर्डर के लिए तैयार

अपने द्वारा प्रकाशित विविधतापूर्ण साहित्य के लिए जाने जाने वाला प्रकाशन फ्लायड्रीम्स प्रकाशन का नया सेट प्रीऑर्डर के लिए तैयार होने वाला है। नए सेट की घोषणा प्रकाशन द्वारा की हाल ही में गयी। यह सेट प्रकाशन के नए इम्प्रिन्ट फ्लायविंगज के माध्यम से रिलीज किया जा रहा है। इस नवीन सेट में तीन किताबें जारी की जाएंगी। 



फ्लाईड्रीम्स प्रकाशन का नया सेट है प्री ऑर्डर के लिए तैयार


नवीन सेट में प्रकाशित होने वाली किताबें निम्न है

अमन क्रांति 

अमन क्रांति सुशांत पांडा का नया उपन्यास है। अगर आप हिन्दी कॉमिक इंडस्ट्री से जुड़े हुए हैं तो आप सुशांत पांडा के नाम से भली भाँति परिचित होंगे। सुशांत पांडा फिक्शन कॉमिक्स के संस्थापक हैं और राज कॉमिक में भी उन्होंने अपनी कला के माध्यम से पाठकों को मुग्ध किया है। अब वह अपनी लेखनी पाठकों के समक्ष लेकर आए हैं। 

किताब परिचय

वो बरसों से जुर्म की दुनिया की खाक छान रहा है। वो ढूंढ रहा है उस हत्यारे को जिसने उसकी दुनिया तबाह कर दी। जिसने छीन लिया उसके माता-पिता और उसके जुड़वां भाई को। 

उसे तलाश थी अपने परिवार के कातिल की।

उसे तलाश थी उस रहस्यमयी व्यक्ति की जो अंडरवर्ल्ड का घोस्ट कहलाता था।

पर उसकी इस तलाश में वह अकेला नहीं था। एक रहस्यमयी दुर्दांत हत्यारा भी उसके साथ इस मकसद को पूरा करने में लगा था।

काबेरी 

काबेरी हेमा श्रीवास्तव का ऐतिहासिक हॉरर थ्रिलर है। यह उनकी दूसरी किताब है। इससे पहले फ्लायविंग्स से उनका लघु उपन्यास किस्सा हम लिखेंगे प्रकाशित हो चुका है। यह एक प्रेम कहानी थी और अब वह बिल्कुल अलग विषय लेकर पाठकों के समक्ष प्रस्तुत हुई हैं।   

किताब परिचय

अगर उस पिशाच ने संतान उत्पत्ति कर ली तो पृथ्वी पर सिर्फ और सिर्फ प्रलय होगी !

कभी कभी न चाहते हुए भी इंसान वह कर जाता है जो उसे करना नहीं चाहिए। ऐसी ही कुछ परिस्थिति ओरछा के राजा  के सामने थी और प्रतिफल में जन्म हुआ एक रक्तपिशाच का..

पांच सौ वर्ष बाद इस पिशाच का लक्ष्य है संतानोत्पत्ति और इसके लिए उसका ज़रिया है काबेरी। अगर वंशवृद्धि का यह अनर्थ हुआ तो ऐसी तबाही मचेगी की कोई भी सुरक्षित न रह सकेगा। 

पृथ्वी और उसकी संतानों की सुरक्षा अब अगर कोई कर सकता है तो वह सिर्फ काबेरी। अब सवाल यह है कि काबेरी का निर्णय किसके हक़ में होगा, जीवन के या रक्तपिशाच के!

क्या रक्तपिशाच संतान उत्पत्ति में सफल होगा?
क्या काबेरी उसे रोकने की हिम्मत जुटा सकेगी?
क्या पृथ्वी सुरक्षित रह सकेगी?

द रियल टाइम मशीन 

अभिषेक जोशी अपने पाठकों के लिए नित नए कथानक लेकर आ रहे हैं। आखिरी प्रेमगीत में उन्होंने एक अलग सी प्रेम कथा लिखी थी और कोव 19 में समसामयिक मुद्दे को लेकर एक रोमांचक थ्रिलर लिखा था। अब वह पाठकों के समक्ष एक और विज्ञान गल्प लेकर आए हैं। टाइम मशीन विज्ञान की दुनिया का ऐसा कान्सेप्ट है जिसने पाठकों और लेखकों को हमेशा से ही आकर्षित किया है। पश्चिम में तो इस विषय पर काफी लिखा है लेकिन भारत में विशेषकर हिन्दी में काम कम हुआ है । ऐसे में लेखक का यह प्रयास सराहनीय भी है। 

यह भी पढ़िए: लेखक अभिषेक जोशी से एक बुक जर्नल की बातचीत 

किताब परिचय

विश्वास करना मुश्किल है। शायद नामुमकिन भी लगे। मगर उसने आविष्कार कर लिया था; उसने टाइम मशीन बना ली थी। एक नहीं, दो नहीं, तीन नहीं, उसने दर्जनों टाइम मशीन बनाई थी। मगर वो इतनी टाइम मशीने क्यों बना रहा था? वह उनका क्या करने वाला था?

मुझे कुछ भी नहीं पता था! पर मैं जानना चाहता था। इसलिए मैंने दो लोगों को तैयार किया; जावेद और इरफान, जिनसे मैं हाल ही में मिला था। दोनों डॉ० रामावल्ली की लैब में घुसकर टाइम मशीन चुराने वाले थे। उन्होंने टाइम मशीन चुराई भी, लेकिन मुझे नहीं पता था कि वे अतीत या भविष्य, जहाँ भी गए थे, वापस नहीं लौटने वाले थे। मुझे यह तब पता चला जब डॉ० रामावल्ली ने मुझे बताया,  

"द रियल टाइम मशीन मेरी खोज है, पत्रकार महोदय! इसलिए मैं तय करूँगा कि वे वापस लौटेंगे या वहीं मर जाएंगे। वैसे बता दूं, इतिहास और न ही भविष्य इतना सुंदर है जितनी लोग कल्पना करते है!"
मुझे उन्हें वापस लाना होगा। - सहस्त्रबाहु।


*******

फ्लायड्रीम्स द्वारा प्रकाशित होने वाली इन किताबों के विषय में अधिक जानकारी आप  09660035345 पर व्हाट्सएप द्वारा संपर्क स्थापित करके जान सकते हैं। 

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad