सूरज पॉकेट बुक्स की नई पुस्तकें हैं प्री-ऑर्डर के लिए तैयार

सूरज पॉकेट बुक्स की नई पुस्तकें हैं प्री-ऑर्डर के लिए तैयार


सूरज पॉकेट बुक्स (Sooraj Pocket Books) की नवीन पुस्तकें प्री-ऑर्डर के लिए तैयार हैं। इस बार सूरज पॉकेट बुक्स (Sooraj Pocket Books) पाठकों के लिए तीन नयीं पुस्तकें लेकर आ आया है। इनमें से दो पुस्तकें उपन्यास हैं और एक पुस्तक अंग्रेजी उपन्यास का हिंदी अनुवाद है। यह तीनों ही पुस्तकें  सूरज पॉकेट बुक्स (Sooraj Pocket Books) के इम्प्रिन्ट बुकेमिस्ट (Bookemist) द्वारा प्रकाशित की जा रही हैं।  

सूरज पॉकेट बुक्स द्वारा प्रकाशित यह पुस्तकें निम्न हैं:


बाकी: मृत्यु सिद्धि

बाकी: मृत्यु सिद्धि



बाली: मृत्यु सिद्धि (Bali: Mrityu Siddhi) लेखक देवेन्द्र पाण्डेय (Devendra Pandey) द्वारा लिखी बाली शृंखला (Bali Series) की तीसरी पुस्तक है। इससे पहले इस शृंखला के दो उपन्यास बाली: युग युगांतर प्रतिशोध (Bali: Yug, Yugantar Pratishodh) और बाली: कैलाश रहस्य (Bali: Kailash Rahasya) भी सूरज पॉकेट बुक्स (Sooraj Pocket Books) द्वारा प्रकाशित किये गए हैं। इस तीसरी पुस्तक को लेखक द्वारा इस त्रेयी की अंतिम पुस्तक कहा जा रहा है। 


किताब परिचय

त्रेतायुग में उत्पन्न हुई एक रहस्यमयी अभेद्य शक्ति जो समय की परतों के बीच कहीं सुप्त पड़ी थी, जिसका कलयुग में सक्रिय होने का उद्देश्य था- मनुष्यजाति का समूल नाश व असुर जातियों का पुनरूत्थान।

किन्तु अब युद्ध की पृष्ठभूमि बदल चुकी है। छद्म आवरण में अब तक सुप्त पड़ी सारी असुर प्रजातियाँ अब अपने अस्तित्व के बचाव के लिए खुल कर सामने आ रहीं हैं, अब कोई रहस्य रहस्य नहीं है। मनुष्य, दैत्य, दानव, राक्षस और देव भी इस अंतिम युद्ध में सम्मिलित हो चुके हैं।

सम्पूर्ण पृथ्वी अब एक युद्धक्षेत्र है, उस अंतिम युद्ध की, जो अब निर्णय करेगा कि कौन सी प्रजाति इस पर राज करेगी।

पुस्तक विवरण

लेखक: देवेन्द्र पाण्डेय | पृष्ठ संख्या: 532 | पुस्तक कीमत: 440 रुपये | पुस्तक लिंक: सूरज पॉकेट बुक्स


अग्निरथी : नियम और दण्ड 

अग्निरथी: नियम और दण्ड



अग्निरथी: नियम और दण्ड (Agnirathi: Niyam Aur Dand) लेखक आकाश पाठक (Aakash Pathak) की सव्यसाची: छल और युद्ध (Savysachi: Chhal Aur Yuddh) का दूसरा भाग है।  इस शृंखला का पहला भाग भी सूरज पॉकेट बुक्स (Sooraj Pocket Books)  द्वारा प्रकाशित किया गया था।  


किताब परिचय

नियमों के विरुद्ध मंत्र विद्या का प्रयोग करने के कारण कौस्तुभ को मिला है दंड। क्या एक अंतहीन मार्ग पर खड़ा कौस्तुभ अपने जीवन को एक नई दिशा दे पायेगा?

वर्षाणों के आक्रमण से एक बार पुनः रक्तरंजित हो चुकी है उत्तराँचल की भूमि। अपने अतीत से जूझता अरिदमन क्या इन दुर्दांत हत्यारों को रोक पायेगा?

विशाल मरुस्थल के गर्भ से निकला एक प्राचीन रहस्य जो एकद्वीप के वर्तमान और भविष्य पर है संकट। मरुभूमि में शिक्षा प्राप्त कर रहा शिखी किस प्रकार जुड़ा है इस रहस्य से?

छल, क्रोध, माया, प्रेम और साहस से भरी अविस्मरणीय गाथा ‘सव्यसाची : छल और युद्ध’ का दूसरा भाग!

पुस्तक विवरण

लेखक: आकाश पाठक | पृष्ठ संख्या: 320 | पुस्तक कीमत: 310 रुपये | पुस्तक लिंक: सूरज पॉकेट बुक्स


नेवर गो बैक


नेवर गो बैक (Never Go Back) लेखक ली चाइल्ड (Lee Child) के इसी नाम के उपन्यास का हिंदी अनुवाद है। यह जैक रीचर शृंखला (Jack Reacher Series) का 18वाँ उपन्यास है जो पहली बार 2013 में प्रकाशित हुआ था। इस उपन्यास की कहानी पर वर्ष 2016 में एक फिल्म का निर्माण हुआ था जिसमें टॉम क्रूज (Tom Cruise) ने रीचर का किरदार का निभाया था। 

नेवर गो बैक (Never Go Back) ली चाइल्ड (Lee Child) का हिंदी में अनूदित दूसरा उपन्यास है। इससे पहले उनका उपन्यास वन शॉट (One Shot) भी हिंदी में अनूदित हुआ था जो कि सूरज पॉकेट बुक्स (Sooraj Pocket Books)से ही प्रकाशित हुआ था। वन शॉट (One Shot) का अनुवाद लेखिका सबा खान (Saba Khan) द्वारा किया गया था। नेवर गो बैक (Never Go Back) का अनुवाद विकास नैनवाल (Vikas Nainwal) (संपादक: एक बुक जर्नल) द्वारा किया गया है। 

 

किताब परिचय 

एक मुश्किल सफर के बाद पूर्व मिलिट्री कॉप जैक रीचर वर्जीनिया पहुँचता है । उसकी मंजिल थी 110वीं मिलिट्री पुलिस जो उसकी पुरानी यूनिट का हेडक्वार्टर था और उसे अपने घर से भी ज्यादा अजीज़ था ।

रीचर के पास यहाँ वापस आने की कोई खास वजह नहीं थी सिवाय इसके कि उसे नयी कमांडिंग ऑफिसर, मेजर सूज़न टर्नर की आवाज़ फोन पर काफी अच्छी लगी थी। लेकिन वह जब तक यहाँ पहुँचा सूज़न गायब हो चुकी थी । उसे किसी भारी गड़बड़ की आशंका होने लगी ।

आगे जो हुआ उसकी रीचर ने उम्मीद नहीं की थी । सोलह साल पहले हुई हत्या के आरोप के बावजूद उसे दोबारा आर्मी जॉइन करने का मौका मिल रहा था ।

क्या रीचर को वापस आने का पछतावा होगा या किसी और को रीचर के वापस आने का ?


पुस्तक विवरण



लेखक: ली चाइल्ड | पृष्ठ संख्या: 492 | पुस्तक कीमत: 440 रुपये | पुस्तक लिंक: सूरज पॉकेट बुक्सअनुवादक: विकास नैनवाल


*****

तो यह थी सूरज पॉकेट बुक्स (Sooraj Pocket Books) द्वारा प्रकाशित नवीन पुस्तकें जो पाठक प्री ऑर्डर कर सकते हैं। यह सभी पुस्तकें सूरज पॉकेट बुक्स (Sooraj Pocket Books) की साइट से ऊपर दिए लिंक से ऑर्डर की जा सकती हैं। 


पुस्तकें प्रकाशक द्वारा 20 अप्रैल 2022 से पाठकों के पास भेजनी शुरू कर दी जाएँगी। 



FTC Disclosure: इस पोस्ट में एफिलिएट लिंक्स मौजूद हैं। अगर आप इन लिंक्स के माध्यम से खरीददारी करते हैं तो एक बुक जर्नल को उसके एवज में छोटा सा कमीशन मिलता है। आपको इसके लिए कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं देना पड़ेगा। ये पैसा साइट के रखरखाव में काम आता है। This post may contain affiliate links. If you buy from these links Ek Book Journal receives a small percentage of your purchase as a commission. You are not charged extra for your purchase. This money is used in maintainence of the website.

Post a Comment

4 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
  1. It's wonderful! Congratulations again. It's such a popular book. Waise aap ye bhi keh sakte hain ki 'Anuvaad mere dwaara kiya gaya hai.' :)
    I wish you all the best.

    ReplyDelete
    Replies
    1. जी अगर वो पोस्ट करते तो शायद लिखते ही। ये वेबसाईट का खबर सेक्शन है जिसमें साहित्य जगत से जुड़ी खबर हम प्रकाशित करते रहते हैं तो इसलिए पोस्ट को तृतीय पुरुष में रखना बेहतर महसूस हुआ। फर्स्ट पर्सन वाली पोस्ट दुईबात में प्रकाशित होगी।

      Delete
  2. अनुवादक बनने पर आपको बधाई।
    आपका खुदका उपन्यास भी आएंगा क्या भविष्य मे?

    ReplyDelete
    Replies
    1. देखिए क्या होता है। उपन्यास बहुत समय और श्रम की मांग करता है। अभी तक वो नहीं दे पाया हूं। शायद भविष्य में दे दूं।

      Delete

Top Post Ad

Below Post Ad