थ्रिलवर्ल्ड प्रकाशन की नवीन पुस्तकों का प्रीऑर्डर हुआ शुरू

थ्रिलवर्ल्ड प्रकाशन की नवीन पुस्तकों का प्रीऑर्डर हुआ शुरू

थ्रिल वर्ल्ड (Thrill World) प्रकाशन द्वारा उनकी नवीन पुस्तकों का प्री ऑर्डर शुरू कर दिया गया है। इस बार थ्रिल वर्ल्ड (Thrill World) प्रकाशक पाठकों के लिए दो उपन्यास लेकर आए हैं। इन दो उपन्यासों में से एक उपन्यास लेखक संतोष पाठक (Santosh Pathak) का है और दूसरा उपन्यास लेखक चन्द्रप्रकाश पाण्डेय (Chandraprakash Pandey) का है।  यह उपन्यास निम्न हैं:


द परफेक्ट मर्डर

'द  परफेक्ट मर्डर' (The Perfect Murder) लेखक संतोष पाठक (Santosh Pathak) की विक्रांत गोखले (Vikrant Gokhale) शृंखला का उपन्यास है। विक्रांत गोखले (Vikrant Gokhale) दिल्ली में रहने वाला प्राइवेट डिटेक्टिव है जिसे लेकर संतोष पाठक (Santosh Pathak) ने अब तक चार से अधिक उपन्यास लिखे हैं। यह इस शृंखला का पाँचवा उपन्यास है। 

 

किताब परिचय

सूर्यकांत संस्कारी हिंदी क्राइम फिक्शन का एकमात्र ऐसा लेखक था, जो करोड़ों में रॉयल्टी वसूलता था। पब्लिशर्स उसे छापने को मरे जाते थे तो प्रोड्यूसर उसकी किताबों के विजुअल राइट्स लेने को बेताब थे।

जैसी मिस्टीरियस किताबें वह लिखता था, वैसे ही रहस्यमयी ढंग से एक रात अपनी जान से हाथ धो बैठा। तब पता चला कि दुनिया भर में लाखों फैंस का धनी सूर्यकांत निजी जीवन में कितना तनहा था।

किसी को परवाह नहीं थी कि उसकी हत्या क्यों हुई, किसने की। उल्टा हर कोई ये जोड़ घटाव करने में व्यस्त था कि संस्कारी की मौत से उसे क्या और कितना फायदा पहुँचा था।

फिर भी किसी की आँखों में उसके लिए आंसू दिखाई दे रहे थे तो वह थी- उसकी सेक्रेटरी नैना सबरवाल, जिसे संस्कारी के हत्यारे का बच निकला कबूल नहीं था।

अपने एम्प्लॉयर की मौत पर दुखी लड़की ने आखिरकार इंवेस्टिगेशन का जिम्मा प्राइवेट डिटेक्टिव विक्रांत गोखले को सौंप दिया। अब ये विक्रांत की जिम्मेदारी थी कि वह सूर्यकांत संस्कारी के हत्यारे को बेनकाब कर के दिखाये।


पुस्तक विवरण

पृष्ठ संख्या: 256 | एमआरपी: 260/- | प्रीऑर्डर मूल्य: 200/-

  

महल

लेखक चन्द्रप्रकाश पाण्डेय (Chandraprakash Pandey) अपने पारलौकिक रोमांचकथाओं के वजह से पाठकों के बीच जाने जाते हैं। इस बार महल (Mahal) के रूप में वह ऐसे ही पारलौकिक रचना अपने पाठकों के लिए लेकर आ रहे हैं। 


किताब परिचय

कामरान हुसैन अव्वल दर्जे का मुसव्विर था लेकिन उसके हुनर पर एक बदनुमा दाग ये था कि कभी-कभी उसके बनाए हुए चित्र किसी की मौत का फरमान बन जाते थे। जिन बदकिस्मत लोगों की शक्लें उसके कैनवास पर नुमाया होती थीं, उनके साथ अगले ही रोज़ से अजीबोगरीब वाकयात होने लगते थे। उन्हें न समझ आने वाली आवाजें सुनाई देने लगती थीं और अृंत में एक काला साया उन्हें लेकर किसी रहस्यमयी महल में चला जाता था।


पुस्तक विवरण

पृष्ठ संख्या: 256 | एमआरपी: 260/- | प्रीऑर्डर मूल्य: 200/-  


वैसे तो अगर आप इन दोनों उपन्यासों में से कोई एक उपन्यास मँगवाते हैं तो उसके लिए आपको 200 रुपये की सहयोग राशि आपको प्रकाशक को देनी होगी। लेकिन अगर आप इन दोनों उपन्यासों को मँगवाते हैं यह 520 रुपए मूल्य ये यह दोनों  उपन्यास प्रकाशक द्वारा केवल 360 रुपये में आप तक मुफ़्त में डिलिवर करवा दिए जाएँगे।  


*****

आप अपने ऑर्डर 9598434828 पर गूगल पे/फोन पे/पेटीएम के माध्यम से दे सकते हैं। ऑर्डर देने के पश्चात आप अपने द्वारा भेजी गई सहयोग राशि का स्क्रीनशॉट और अपना पता थ्रिल वर्ल्ड प्रकाशन के सेल्स एग्जिक्युटिव को 8528578186 पर भेज सकते हैं। 

इस प्रीऑर्डर ऑफर का लाभ आप 31 मार्च 2022 तक ही उठा सकते हैं। उसके बाद पुस्तकों की कीमतें बढ़ जाएँगी। प्रकाशन द्वारा पुस्तकें 15 अप्रैल 2022 से डिसपैच होना शुरू हो जाएगी। 


यह भी पढ़ें




FTC Disclosure: इस पोस्ट में एफिलिएट लिंक्स मौजूद हैं। अगर आप इन लिंक्स के माध्यम से खरीददारी करते हैं तो एक बुक जर्नल को उसके एवज में छोटा सा कमीशन मिलता है। आपको इसके लिए कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं देना पड़ेगा। ये पैसा साइट के रखरखाव में काम आता है। This post may contain affiliate links. If you buy from these links Ek Book Journal receives a small percentage of your purchase as a commission. You are not charged extra for your purchase. This money is used in maintainence of the website.

Post a Comment

2 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad