स्लो बर्नर - लॉरा लिपमैन

संस्करण विवरण:

फॉर्मैट: ई-बुक | पृष्ठ संख्या: 33 | प्रकाशन: अमेज़न ऑरिजिनल स्टोरीस | शृंखला: हश कलेक्शन

किताब लिंक: अमेज़न

समीक्षा: स्लो बर्नर - लॉरा लिपमैन | Review: Slow Burner - Laura Lippman


कहानी 

लिज को विश्वास था कि उसकी शादी अब टूटने से बच जायेगी। लेकिन जब लिज की नजर उस संदेश पर पड़ी तो उसे यकीन हो गया कि उसकी शादी पर लगा ग्रहण अभी तक टला नहीं था। फिल ने उस दूसरी औरत से नाता तोड़ने का केवल आश्वासन दिया लेकिन उसने ऐसी कोई कोशिश फ़िहलाल नहीं की थी। 

फिल अभी भी उस औरत से प्रेम करता था और लिज को लग गया था कि वह इसके लिए अपनी शादी तोड़ने को भी तैयार था। 

लेकिन लिज का ऐसा कोई इरादा नहीं था। वह कुछ भी करके अपनी शादी बचाना चाहती थी। 

क्या फिल और लिज की शादी टूट जायेगी? 

लिज अपनी शादी को बचाने के लिए क्या करेगी? 


मेरे विचार

स्लो बर्नर लेखिका लॉरा लिपमेन की लिखी उपन्यासिका है। यह अमेज़न द्वारा प्रकाशित हश क्लेशन का हिस्सा है जिसमें कई प्रसिद्ध अपराध कथा लेखकों ने अमेज़न के लिए उपन्यासिकाएँ या लघु-उपन्यास लिखे थे। यह सभी रचनाएँ धोखा और उसके असर के इर्द गिर्द लिखी गयी थी। लॉरा लिपमेन द्वारा लिखी यह कहानी भी झूठ धोखा और उसके लिज और फिल पर पड़ते असर को केंद्र में रखकर लिखी गयी है। 

स्लो बर्नर अक्सर ऐसी चीज को कहा जाता है जो धीरे धीरे करके रुचिकर होती है। वह एक दम से आपको बांधती नहीं है बल्कि माहौल बनाने में अपना वक्त लेती है और फिर पाठक या दर्शक को अपने मोहपाश में कस देती है। लॉरा लिपमैन द्वारा लिखी यह उपन्यासिका भी ऐसी ही है। कहानी धीमे धीमे ही खुलती है।


किताब की शुरुआत लिज के फिल के टेक्स्ट संदेश को पढ़ने से होती है। हमे पता लगता है कि लिज और फिल की शादी डगमगा रही है और वह इसे जोड़ने के लिए कोशिश कर रहे है। अपनी काउन्सेलिंग में लिज ने ये वादा भी किया है कि वह फिल पर जासूसी नही करेगी।ऐसे में जब लिज को यह संदेश मिलते हैं तो वह समझ नहीं पाती है कि उसे फिल से बात करनी चाहिए या नहीं। इसके बाद की कहानी ऐसे ही संदेशों एक माध्यम से आगे बढ़ती है। पाठक को फिल और उसकी प्रेमिका के बीच के संदेश पढ़ने को मिलते हैं और उस लिज की प्रतिक्रिया भी जानने को मिलती है। इन संदेशों के चलते लिज क्या करती है यह देखने के लिए पाठक कहानी के पृष्ठ पलटता चला जाता है।

कहानी संदेशो के माध्यम से आगे बढ़ती है तो कई बार इसे पढ़ते हुए ऐसा भी लगता है जैसे आप टीवी आने वाले कोई सास बहु सीरीयल (सोप ओपेरा) का एपिसोड देख रहे हो। ऐसे में आपको आगे पढ़ते चले जाने के लिए कई बार खुद को फोर्स भी करना पड़ता है। मुझे लगता है कहानी में थोड़ा और रोमांच होता तो बेहतर रहता।

वैसे लिज क्या करेगी यह काफी पहले साफ हो जाता है लेकिन फिर भी लेखिका ने कहानी को ऐसा लिखा है कि वह अंत में पाठक को चौंकाने में कामयाब हो जाती है। कहा जाता है कि Hell hath no fury like a woman scorned अर्थात एक त्रिसकृत महिला के क्रोध के सामने नरक की कोई भी सजा नहीं ठहरती है और यह कहानी इस कहावत को चरितरार्थ करती है। 

यह कहानी एक रोमांचकथा तो है लेकिन कहानी के माध्यम से लेखिका समाज पर टिप्पणी भी करती नजर आई हैं। लिज एक शिक्षिका है और इस कारण ग्रीक मिथको में जिउस और हेरा की कहानी का सहारा लेकर यह दर्शाया गया है कि कैसे पहले से लेकर आजतक आदमी की गलती की सजा औरत को मिलती है। आज भी जब किसी के पति का अफेर चलता है तो अक्सर पत्नी दूसरी औरत को ही इसका जिम्मेदार ठहराती है। वहीं कहानी में फिल भी एक ताकतवर आदमी है और कई बार कैसे ऐसे मर्द अगर किसी औरत पर आसक्त होते हैं तो वह क्यों अपनी बात सामने रखने में झिझक सकती है यह भी दर्शाया गया है। यह भी एक तरह से सामाजिक व्यवस्था पर एक टिप्पणी है। 


मुझे लगता है लॉरा लिपमैन द्वारा लिखित इस उपन्यासिक में रोमांच के तत्व ज्यादा होते और कहानी का अंदाजा लगाना इतना आसान न रहता तो यह और बेहतर बन सकती थी। स्लो बर्नर एक बार पढ़ी जा सकती है। 
 

किताब लिंक: अमेज़न


Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad