सुनील सीरीज

सुनील सीरीज राजनगर में रहने वाले और ब्लास्ट में क्राइम रिपोर्टर का काम करने वाले सुनील कुमार चक्रवर्ती  के कारनामो को बयान करती है। इस श्रृंखला कि शुरुआत १९६३  में हुई थी और अब तक इस श्रृंखला के 122 उपन्यास लिखे जा चुके हैं। आशा है इस सीरीज के सभी उपन्यासों को पढ़ सकूँगा।

  1. पुराने गुनाह नये गुनाहगार
  2. समुद्र में खून (धरती का स्वर्ग)
  3. होटल में खून
  4. बदसूरत चेहरे
  5. ब्लैकमेलर की हत्या (एक तीर दो शिकार)
  6. हांगकांग में हंगामा(देशद्रोही)
  7. मूर्ती की चोरी
  8. शैतान कि मौत (बेनकाब चेहरा)
  9. रिपोर्टर की हत्या 
  10. आस्तीन का साँप
  11. हत्यारे (रहस्य के धागे)
  12. रेड सर्किल सोसाइटी
  13. ये आदमी खतरनाक है (खतरनाक अपराधी, कार्ल प्लुमर की वापसी)
  14. खतरनाक ब्लैकमेलर
  15. हांगकांग के लुटेरे
  16. हत्या की रात 
  17. बन्दर की करामात
  18. काला मोती
  19. डबल रोल
  20. सफल अपराधी 
  21. झूठी औरत
  22. मुर्दा जी उठा 
  23. शाही मेहमान
  24. फ्लैट में लाश
  25. फरार अपराधी 
  26. ऑपरेशन डबल एजेंट
  27. डरपोक अपराधी
  28. लंदन में हंगामा 
  29. दोहरी चाल
  30. विक्षिप्त हत्यारा 
  31. यूरोप में हंगामा 
  32. विनाश के बादल
  33. ऑपरेशन पेकिंग
  34. बारूद और चिंगारी
  35. खूनी नेकलेस
  36. पाकिस्तान कि हसीना (ऑपरेशन पकिस्तान)
  37. ऑपरेशन जनरल के
  38. आखरी शिकार
  39. कॉल गर्ल की हत्या
  40. खून ही खून 
  41. अमन के दुश्मन
  42. हाइजैक
  43. दूसरी हत्या 
  44. एक खून और 
  45. बसरा में हँगामा
  46. एक्सीडेंट
  47. सिन्हा मर्डर केस
  48. नीली तस्वीरें
  49. ऑपरेशन ढाका
  50. ब्लैकमेल
  51. खिलाड़ी की हत्या
  52. रहस्य का अँधेरा
  53. मौत की छाया
  54. ट्रिपल क्रॉस
  55. डबल मिशन
  56. स्पाई चक्र
  57. सिंगल शॉट
  58. चोर सिपाही 
  59. ऑपरेशन सिंगापुर
  60. काली हवेली 
  61. पिसाच का प्रतिशोध
  62. खून का खेल 
  63. नया दिन नयी लाश
  64. शूटिंग स्क्रिप्ट
  65. तस्वीर की शहादत
  66. सेक्स स्कैंडल
  67. जान का खतरा
  68. लाश का कत्ल 
  69. डबल मर्डर
  70. जासूस की हत्या
  71. स्टार नाईट क्लब
  72. गर्म लाश
  73. बंद दरवाज़ा
  74. अँधेरे कि चीख
  75. मौत की आहट
  76. मीना मर्डर केस
  77. अनोखी चाल
  78. नौ जुलाई कि रात
  79. खाली कारतूस
  80. ऑफिस में लाश
  81. विष कन्या 
  82. पार्क में लाश
  83. झूठी गवाही 
  84. ब्लो अप
  85. टॉप सीक्रेट
  86. संगीन जुर्म
  87. जादूगरनी 
  88. खून से रंगा चाकू
  89. अँधेरी रात'
  90. मैं बेगुनाह हूँ 
  91. नकली वारिस 
  92. पीला गुलाब
  93. ताज़ा खबर
  94. काला कारनामा
  95. लाश गायब
  96. फ्रंट पेज
  97. दिवाली की रात 
  98. कानून का चैलेंज 
  99. प्राइम सस्पेक्ट
  100. गोली और ज़हर 
  101. पापी परिवार
  102. स्टॉप प्रेस
  103. जेहरी हत्याकाण्ड
  104. अहिरवाल केस
  105. कमरा नंबर ३०३
  106. गुनाह की जंजीर
  107. घर का भेदी
  108. ब्लैक लिस्ट
  109. धमकी 
  110. झाँसा
  111. निशानी 
  112. स्कैंडल पॉइंट
  113. फिंगर प्रिंट 
  114. भक्षक 
  115. पूरे चाँद की रात 
  116. बिचौलिया
  117. जाल
  118. नकाब
  119. धब्बा 
  120. डबल गेम
  121. सिंगला मर्डर केस
  122. कॉनमैन 


10 comments:

  1. Kya DARPOK APRADHI online available hai please reply me

    ReplyDelete
    Replies
    1. डेली हंट पर आपको यह उपन्यास मिल जायेगा। आप उधर से ख़रीद कर इसे पढ़ सकते हैं।

      Delete
  2. Kya DARPOK APRADHI online available hai please reply me

    ReplyDelete
    Replies
    1. डेली हंट एप्प में सुरेन्द्र मोहन पाठक साहब के सारे उपन्यास उपलब्ध हैं। अगर आपके पास एंड्राइड फोन है तो आप इस एप्प को डाउनलोड करके उपन्यास उसमे खरीदकर पढ़ सकते हैं।
      https://m.dailyhunt.in/Ebooks/hindi/darpok-apradhi-book-83258
      इसके इलावा तो शायद ही आपको कहीं और से वो उपन्यास मिलें।

      Delete
    2. पाठक जी का अमन के दुश्मन 'और 'हाईजैक' उपन्यास कैसे मिलेगा,कृपया बताएं

      Delete
    3. पहले तो ये उपन्यास डेली हंट में मौजूद थे लेकिन अब उधर नहीं हैं। किंडल में कुछ उपन्यास मौजूद हैं जो कि आप निम्न लिंक पर जाकर देख सकते हैं:
      https://amzn.to/2N6YA8F

      Delete
  3. Darpok Apradhi- padhna chahta hu onlin padhne ke liye batayen

    ReplyDelete
    Replies
    1. डरपोक अपराधी आपको डेली हंट में पढ़ने को मिल जाएगी। लिंक निम्न है:
      https://m.dailyhunt.in/Ebooks/hindi/darpok-apradhi-book-83258

      Delete
  4. Kya koi aisi soorat hai ke ye sabhi novels paper book form me kahin S3 khareede ja sake.

    ReplyDelete
    Replies
    1. कुछ उपन्यास तो मौजूद हैं लेकिन पुराने उपन्यासों के विषय में कुछ कहा नहीं जा सकता। कई लोग पुरानी किताब बेचने वालों के पास ढूँढढूँढ कर कलेक्शन बनाते हैं। जहाँ तक मेरी बात है मैंने डेली हंट और अब किंडल से ई बुक ले लेता हूँ। पेपरबैक न मिले तो वही सही। हाँ,पाठक साहब के उपन्यासों के रीप्रिंट आने लगे हैं। उम्मीद हैं इनमें से कुछ का रीप्रिंट होगा। आप इस बाबत पाठक साहब को मेल भी कर सकते हैं। उनका मेल आई डी निम्न है:
      smpmysterywriter@gmail.com

      Delete

Disclaimer:

Vikas' Book Journal is a participant in the Amazon Services LLC Associates Program, an affiliate advertising program designed to provide a means for sites to earn advertising fees by advertising and linking to Amazon.com or amazon.in.

हफ्ते की लोकप्रिय पोस्टस(Popular Posts)