किताब परिचय: कॉमरेड - अंकुर मिश्रा

 


किताब परिचय



अंकुर मिश्रा की कहानियाँ समाज के अंदर की वो खुरचन है जिसपर अनायास हमारी नजर नहीं जाती पर पढ़ते हुए हम इनको निकट का ही पाते हैं । इनकी कहानियों में दुनिया है,गम है, आनंद है और तन्हाई है....ये अपने पाठकों को हाथ पकड़ कर मंजिल तक नहीं ले जाते बल्कि अपना संसार रचकर पाठक को उसके साथ छोड़ देते हैं । आप इनकी कहानियों को अनायास नहीं विस्मृत कर सकते, प्रत्येक कहानी एक टीस, एक आग्रह आपके स्मृतिपटल पर अंकित कर जाएगी । इनको पढ़ना मानो अपने आस पास की उन अंधेरी गलियों से गुजरना है, जहां जाना तो दूर अभी तक जिनके वर्तमान होने की जानकारी भी हमें नहीं है । यह इनका दूसरा कहानी संग्रह है। इस संग्रह में उनकी निम्न ग्यारह कहानियाँ संकलित हैं:
  1. कॉमरेड 
  2. ऐसे जिये हम तुम 
  3. कोई नाम नहीं 
  4. और वो मर गए 
  5. यूँ गिरता है कोई
  6. आधा-अधूरा 
  7. आधी भूली, आधी बाद 
  8. खाली 
  9. कसक 
  10. उत्सवरत गली 
  11. हम मरने वाले हैं 

संग्रह में मौजूद कहानियों के विषय में लेखक निम्न बात कहते हैं:

'ये कहानियाँ हमारे आस पास की ही हैं एवं आस पास की वैचारिक स्तर पर पड़ताल भी करती हैं । इन कहानियों में सिर्फ आस पास है ऐसा भी नहीं कहा जा सकता, परिस्थितियाँ ही इन कहानियों की नायक / खलनायक /नायिका /खलनायिका हैं । इन कहानियों में रुदन है तो जश्न भी है। '


किताब आप निम्न लिंक पर जाकर खरीद सकते हैं:

लेखक परिचय:

अंकुर मिश्रा कानपुर उत्तर प्रदेश के हैं। उन्होंने इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के पश्चात बैंकिंग क्षेत्र में अपना कैरियर बनाने का विचार किया। अब वह सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक में वरिष्ठ प्रबन्धक के पद पर कार्यरत हैं। 

उनकी कहानियाँ विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित होती रही हैं। उनका पहला कहानी संग्रह 'द जिंदगी' था जिसे 2018 में सर्व भाषा ट्रस्ट द्वारा 'सूर्यकान्त त्रिपाठी निराला साहित्य सम्मान 2018' दिया गया। 

कॉमरेड उनका दूसरा कहानी संग्रह है जो कि यश प्रकाशन द्वारा प्रकाशित किया जा रहा है। 

लेखक से आप निम्न माध्यमों के द्वारा सम्पर्क स्थापित कर सकते हैं:

ईमेल | फेसबुक इंस्टाग्राम अमेज़न पेज


नोट: किताब परिचय 'एक बुक जर्नल' का नया सेक्शन है जिसमें हम लोग नव-प्रकाशित किताबों से अपने पाठकों का परिचय करवाते हैं। अगर आप भी चाहते हैं कि हम आपकी किताब को इस सेक्शन में फीचर करें तो आप हमसे निम्न ईमेल के माध्यम से सम्पर्क स्थापित कर सकते हैं:

contactekbookjournal@gmail.com

Post a Comment

4 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
  1. बहुत सुन्दर।
    श्री कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएँ आपको।

    ReplyDelete
    Replies
    1. आपको भी श्री कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक बधाई ,सर........पोस्ट आपको पसन्द आई यह जानकर अच्छा लगा....

      Delete
  2. बहुत अहम जानकारी मिली इसके लिए शुक्रिया।

    ReplyDelete
    Replies
    1. जानकारी आपको पसंद रुचिकर लगी यह जानकर अच्छा लगा। आभार।

      Delete

Top Post Ad

Below Post Ad